एम सी डी (मोस्ट करप्ट डिपार्टमेंट) के बाद, पी डब्लू डी (पर्सनल वेलफेअर डिपार्टमेंट )

एम सी डी (मोस्ट करप्ट डिपार्टमेंट) के बाद, पी डब्लू डी (पर्सनल वेलफेअर डिपार्टमेंट )
सरकार को चूना लगाने मे पी डब्लू डी के कुछ अधिकारी भी पीछे नहीं है आए दिन अखबार मे टीवी पर ये देखने को मिलता ही है, उदाहरण आये दिन हर जगह रोड खुदी पड़ी रहती है सरकारी विभाग आपस मे तालमेल नहीं रखते, क्योकि अपने ठेकेदार से काम करवाकर हिस्सा लेकर खुद भी तो पैसा कमाना है, जिससे सरकार का लाखो का नुकसान भी होता है

8 comments:

Patali-The-Village said...

चूना लगाने में कोई भी डिपार्टमेंट पीछे नहीं है|

हरीश सिंह said...

निश्चित रूप से भ्रस्टाचार की जड़े हमारे देश को खोखला कर रही है, इसका विरोध सभी को एकजुट होकर करना होगा. आपने जो मुहीम शुरू की है उसमे हम आपके साथ हैं.

शालिनी कौशिक said...

aapne bahut sateek bat kahi hai .PWD ki full form yahi hai .bhrashtachar ke khilaf sabhi ko ek jut hona hi hoga .aabhar

Anti Virus said...

आप हमारा साथ मांग रहे हैं भ्रष्टाचार के खिलाफ ?
भ्रष्टाचार आप कैसे दूर करेंगे ?
कुछ रास्ता तो सुझाइए ?

Deepak Saini said...

सही कहा
यहाँ खुदा वहाँ खुदा
जहाँ नही खुदा
वहाँ कल खुद जायेगा

दर्शन कौर धनोए said...

Apna sach abhi mokhte me band haae --apna smpurn prichy do --sab vijit karne jrur aaege ..

शिखा कौशिक said...

bahut sarthak lekhan .maine aapke blog ka ullekh ''ye blog achchha laga'' par kiya hai .aap aaye v apne vicharon se avgat karayyen .

DR. ANWER JAMAL said...

Nice post.